तारा क्या होता है और तारे से जुड़े तथ्य ?

तारा की परिभाषा :

जिन खगोलीय पिंडों का अपना प्रकाश एवं ऊष्मा होती है इन्हें तारा कहा जाता है ।

    • ये हाइड्रोजन (70%) व हीलियम गैसों (26.5%) के बहुत बड़े पिंड होती है ये आसमान में टिमटिमाते हुए प्रतीत  होते है साथ ही ऊष्मा एवं ऊर्जा प्रदान करते है सूर्य भी एक तारा है।
    • साइरस सबसे चमकीला तारा है इसे ‘डॉग स्टार’ भी कहते है और प्रोक्सिमा सेन्चारी पृथ्वी के सबसे निकट का तारा है।
    • पृथिवी के ध्रुव पर 90 डिग्री का कोण बनाने वाला  तारा ध्रुव (Pole Star) तारा होता है।

तारों का विकास :

तारों का जन्म > वृद्धि होती है > नष्ट होते है (सुपरनोवा विस्फोट द्वारा) > बचे हुए न्यूट्रान तारे ब्लैक होल अथवा कृष्ण छिद्र कहलाते है जो तारा जितना चमकीला होता है उसकी आयु उतनी कम पाई जाती है ।

अगर आपको यह पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ Share जरुर करे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *